Get Important updates to shape up your career

एंटी भू माफिया पोर्टल यूपी Register Complaint: Bhu Mafia Shikayat Status

एंटी भू माफिया पोर्टल यूपी jansunwai.up.nic.in UP Anti Bhu Mafia Registration complaint check status Anti Bhumafia Shikayat panjikaran. शासन प्रशासन को आए दिन ऐसी शिकायतें मिलती रहती हैं जिनमें भू माफियायों द्वारा सरकारी व निजी संपत्तियों पर अबैध कबजा करने का जिक्र होता है। ऐसे भ्रष्टाचार  लोगों का पता लगाकर उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जानी बहुत जरूरी है। इससे आम जनता में सुरक्षा की भावना विकसित होगी। जब भी किसी नागरिक को ऐसी समस्या से निपटना हो तो सरकार ने इसके लिए ऐंटी भूमाफिया पोर्टल तैयार किया है।

एंटी भू माफिया पोर्टल यूपी 2022

इस पोर्टल के द्वारा शिकायत कर्ता आसानी से अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है। शिकायत पर विभाग द्वारा की गई कार्यवाही की जानकारी भी प्राप्त कर सकता है। इस प्रकार व्यक्ति इस पोर्टल के माध्यम से वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क करके  अपनी शिकायत पर की गई सारी कार्यवाही का ब्यौरा निरंतर प्राप्त कर सकता है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने राज्य में इस पोर्टल सुविधा  का शुभारंभ किया है।

इस सुविधा का एकमात्र  उद्देश्य उन लोगों  तकपहुँचकर उन्हें दण्डित करना है जो सरकारी या निजी जमीन पर अबैध कबजा करते हैं। पोर्टल की सुविधा के कारण ये जनसमस्या  मुख्यमंत्री तक पहुंचेगी और इस का जल्द निपटारा होगा। किसानों या भूमि के मालिकों को ऐसी स्थिति का सामना कई बार करना पड़ता है जब भू माफिया द्वारा उन की जमीन पर अबैध कब्जा कर लिया जाता है,लेकिन यूपी सरकार के द्वारा दी गई पोर्टल की सुविधा से  राज्य के उन लोगों ने राहत की सांस ली है।

UP Shasanadesh Portal

UP Jansankhya Kanoon Niyantran Niti

UP Prepaid Bijli Bill Online

UP Gramodyog Rojgar Yojana

UP PM Kisan Yojana Status 2022

UP Rojgar Mela 2022 district wise

PM Kisan Aadhaar Link

UP Vaccine Registration

Corona Helpline Number

PM Kisan 9th Installment Date 2022

UP Anti Bhu Mafia Complaint Registration

यूपी सरकार ने अपने राज्य की प्रत्येक तहसील और प्रत्येक मंडल ऐंटी भू माफिया टीम बना दी है ,जिसके माध्यम से पूरा राज्य इस समस्या से  बहुत जल्द उबर जाएगा। आज हम अपने इस लेख के माध्यम से वो सभी जानकारी  आप तक पहुंचाना चाहते हैं  जिससे आप घर पर बैठ कर ही ऐंटी भू-माफिया पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं और इस संबंध से जुड़ी हुई सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

ऐंटी भू-माफिया पोर्टल के लाभ – राज्य का कोई भी नागरिक जो अपनी शिकायत  संबंधित विभाग को करना चाहता है ,उसे विभाग के कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं होगी इस पोर्टल के कारण वह घर बैठे ही विभाग को ऑनलाइन आवेदन भेज सकता है। इसके लिए सरकार ने अपनी ऑफिसियल वेबसाइट की सुविधा प्रदान की है। शिकायत पंजीकरण होने के कुछ समय पश्चात आपकी समस्या का निपटारा कर दिया जाएगा। आप अपनी शिकायत के साथ कब्जाकृत जमीन की वीडीओ भी भेज सकते हैं।

Anti Bhu Mafiya Portal UP
Anti Bhu Mafiya Portal UP

UP Anti Bhumafia Complaint Status 2022

सरकार की तरफ से यह विश्वास दिलाया गया है कि अबैध रूप से कब्जा की हुई जमीन  उसके मालिक को वापिस लौटाई जाएगी।

यूपी में भू-माफिया से निपटने के लिए जो टीम गठित की गई है ,वह हर समय इस समस्या से जूझ रहे  नागरिको के लिए उपलब्ध रहेगी। इस पोर्टल सुविधा के माध्यम से आवेदक की शिकायत करने से लेकर उसके निपटारे तक विभाग द्वारा की गई सारी कार्यवाही का सारा वृतांत पारदर्शी होगा। इस प्रकार अवैध कब्जे के भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी।

एंटी भू माफिया शिकायत पंजीकरण 2022

उद्देश्य- इस पोर्टल का उद्देश्य भूमाफिया का पर्दाफाश करना और ऐसे लोग जो इस धन्धे में संलिप्त हैं उन पर जल्द कार्यवाही करके उनको दंडित करना है। कई बार  आवेदक की शिकायत के बाद भी या उन के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने के बाद भी संबंधित विभाग या अधिकारी द्वारा इस संबंध में कोई कदम नहीं उठाया जाता। ऐसा तभी होता है जब अपराधियों की उन तक पहुंच हो।

ऐसे में लोगों की समस्या का कोई हल नहीं निकलता इस प्रकार अपराधियों को अवैध कार्य करने में बढ़ावा मिलता है। लेकिन अब जब यह पोर्टल सुविधा उपलब्ध है तो सभी अवैध कार्यों पर रोक लगेगी और लोगों को उनकी जमीन वापिस दिलाई जाएगी। इन सारी समस्याओं से लोगों को निपटारा दिलाने के लिए ही यूपी सरकार ने पोर्टल का शुभारंभ किया है।

एंटी भू माफिया शिकायत स्थिति 2022

एन्टी भू माफिया पोर्टल पर शिकायत के पंजीकरण करने का तरीका

यहां ये बात ध्यान देने योग्य है कि वही नागरिक इसके लिए आवेदन कर सकते हैं जिनकी जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा हो। आप अपने घर पर बैठकर ही किस तरह अपनी शिकायत ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं इससारी प्रक्रियाको हम नीचे दिए गए स्टेप्स से समझा रहे हैं-

सबसे पहले आवेदक को जनसुनवाई की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। इसका नाम एन्टी लैंड माफिया पोर्टल है।

UP Anti Bhumafia Portal

इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा, आपको भू माफिया पोर्टल पर क्लिक करना है।

इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलेगा जिसमें आपने शिकायत पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करना है।

एंटी भू माफिया शिकायत रजिस्ट्रेशन

उसके बाद आपके सामने एक फार्म आ जायेगा जिस पर आवेदक को अपनी सारी जानकारी जो पूछी गई होगी ,सही सही भरनी है।इस जानकारी में अपना मोबाइल नंबर ईमेल आईडी और कैप्चा कोड भरना होग।

अब एक कॉलम आपके सामने होगा जिस पर आपने अपने मोबाइल पर आए हुए ओटीपी नंबर  को भरना है।सब्मिट के बटन पर क्लिक करने पर आपके सामने आवेदन फार्म आ जायेगा। आवेदन फार्म में व्यक्ति को अपना जनपद ,विकासखंड तहसील कार्यालय, भूमि का प्रकार, ग्रामपंचायत खाता संख्या आदि सब सही भरना है।आवेदक इस बात का पूरा -पूरा ध्यान रखें कि आप के द्वारा दी गई जानकारी सही हो आप के द्वारा भरी हुई जानकारी अगर गलत पाई जाती है तो आप का आवेदन रद्द हो सकता है

इसके बाद आपको संदर्भ सुरक्षित  करें  के कॉलम पर क्लिक करना है। आपने जो मोबाइल नंबर  रजिस्टर्ड किया होगा ,विभाग द्वारा उस नम्बर पर आपको एक पंजीकरण नम्बर प्रदान किया जाता है, जिससे आप आवेदन की स्थिति का पूरा ब्यौरा जांच सकते हैं। इसलिए  व्यक्ति को पंजीकरण नम्बर सम्भाल कर रखना होगा।

इस प्रक्रिया से कोई भी नागरिक ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश भू माफिया शिकायत निवारण पर विलम्ब होने पर आवेदक को क्या करना चाहिए?

यदि कोई नागरिक नागरिक भू माफिया के खिलाफ शिकायत दर्ज करता है लेकिन उसकी शिकायत पर निवारण के लिए कोई भी कार्यवाही नहीं की जाती है तो वह फिर से सम्बंधित अधिकारी को कार्यवाही के लिए आवेदन कर सकता है। इसके लिए आप निम्नलिखित तरीके से आवेदन कर  विभाग को  स्मरण कर सकते हैं-

सबसे पहले उम्मीदवार जनसुनवाई की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।

UP Anti Bhu Mafiya Complaint Status

इसके बाद आपके सामने होम पेज खुलेगा। आप यहां अब ‘अनुस्मारक भेजें’ के लिंक पर क्लिक करना है।

आप के द्वारा यहां क्लिक करने के बाद नया पेज खुलेगा, जिस पर आपको शिकायत संख्या दर्ज करनी है और ‘खोजें’ के बटन पर क्लिक करना है।इस तरह आपका आवेदन सम्बन्धित विभाग तक पहुंच जाएगा। विभाग ने जो भी कार्यवाही आपकी शिकायत के सम्बंध में की है उसका ब्यौरा आपको मिल जाएगा।

उत्तर प्रदेश का जो भी आवेदक अपने आवेदन पर विभाग द्वारा की गई कार्यवाही की स्थिति  जानना चाहता है, वह निम्लिखित प्रक्रिया द्वारा जान सकता है-

सबसे पहले आवेदक को विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा।

इस के बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज  खुलेगा आप यहां आवेदन की स्थिति पर क्लिक करेंगे।

अब आपके सामने स्थिति देखने के लिए एक फॉर्म आ जाएगा।इस फॉर्म में आपको शिकायत संख्या, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और कैप्चा कोड भरना है और फिर सबमिट के बटन पर क्लिक करना है। ये सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपके सामने आवेदन की स्थिति आ जायेगी।

उत्तर प्रदेश एन्टी भू माफिया पर ब्यौरा कैसे दर्ज करें?

इसके लिए भी सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलेगा। इसके बाद आपको आपकी प्रतिक्रिया के लिंक पर क्लिक करना होगा।

ऐसा करने से आपकी स्क्रीन पर फीडबैक भरने के लिए फॉर्म आ जायेगा। आपको इस फॉर्म में पूछी वे सारी जानकारी सही भरनी है। इसके बाद आगे की सारी कार्यवाही संबंधित अधिकारियों द्वारा की जाएगी। तब तक यदि आपकी समस्या का कोई निवारण नहीं हुआ हो तो तीन महीने के भीतर ही  कार्यवाही पर प्रतिक्रिया दे सकते हैं। इसके अनुसार ही सम्बन्धित अधिकारी द्वारा कार्यवाही की जाएगी।

एन्टी भू माफिया ऐप्प डाउनलोड करने का तरीका –

उत्तर प्रदेश की सरकार ने ऐंटी भू माफिया मोबाइल एप्प की भी शुरुआत की है।  राज्य का कोई भी नागरिक जो भू माफिया द्वारा अवैध कब्जे के कारण परेशानी का सामना कर रहा हो

वह अपने मोबाइल में डाऊनलोड एप्प के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज कर सकता हैऔर समय समय पर  आवेदन की स्थिति, उसपर विभाग द्वारा की गई कार्यवाही की जांच कर सकता है। यहां एक बात ध्यान देने योग्य है कि एन्टी भू माफिया एप्प डाउनलोड करने के लिए आपके पास एंड्रॉइड फोन होना आवश्यक है। एंड्रॉयड फोन के प्लेस्टोर में जाकर आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई समाधान सर्च करना है और इंस्टाल पर क्लिक करना है। इंस्टाल करने के बाद आप एप्प खोल सकते हैं।

Comments are closed.