Get Important updates to shape up your career

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना Apply Online: obc/ebc/sc/st

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना for obc ebc bc sc st Bihar Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan apply online. भारत देश में केंद्र सरकार पिछड़े वर्ग के लिये बहुत सी योजनाओं को क्रियान्वित करती रहती है ताकि पिछड़े वर्ग के अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों का स्तर भी उठाया जा सके। इसी स्थिती को ध्यान में रखते हुए बिहार में सरकार द्वारा एक योजना शुरू की गई जिसका नाम मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना है ।

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना

इस योजना को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के शिक्षा स्तर को सुधारने के लिए की । इस योजना के तहत बिहार के पिछड़े वर्ग जिसमें अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अथवा अल्पसंख्यक लोग सम्मलित हैं उन्हें बिहार की  राज्य सरकार आर्थिक मदद देगी ।

अत्यंत पिछड़े वर्ग से सम्बंध रखने वाले सभी उम्मीदवार जिन्होंने राज्य एवं केंद्र सरकार के प्राइमरी लेवल की  परीक्षा पास की है उन्हें बिहार राज्य की सरकार कुछ सहायक राशि की मदद देगी ताकि वो सभी जो योग्य हैं पर आर्थिक स्थिती के कारण पढ़ नहीं सकते वो भी इस योजना से पढ़ने के लिए उत्साहित होंगे।

Bihar Pichda Varg Civil Seva Protsahan Yojana

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग प्रोत्साहन योजना की मूलभूत  जानकारी

इस योजना का नाम मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना रखा गया क्योंकि ये योजना पिछड़े वर्ग के लोंगो , अल्पसंख्यक, अनुसुचित जाति व जनजाति के लोगों के लिए है जिन्होंने  सिविल सेवा की प्राइमरी लेवल की परीक्षा पास की हो । बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी ने इस योजना का शुभारंभ इसी अनुसूचित जाति और जनजाति  के लिए किया है ।और इस योजना के लिए राज्य सरकार ने एक विभाग को कार्यभार सौप जो कि इसकी देखरेख करेगा ।

बिहार सरकार का यह  विभाग बिहार का एसटी / एससी कल्याण विभाग है । मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 16 मई, 2018 को शुरू की गई। मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के वर्ग के लिए की ताकि इस वर्ग के लोग शिक्षा के लिए प्रोत्साहित हो । इस वर्ग से बहुत से लोग आर्थिक तंगी के कारण पढ़ाई छोड़ देते थे । पर सरकार द्वारा इस योजना के शुरु करने से अब उस वर्ग ने भी पढ़ना शुरू किया है।

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना
मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना

Atyant Pichda Varg Civil Protsahan Scheme

अगर ये वर्ग शिक्षा लेगा तो उनका जीवन स्तर भी अच्छा हो जायेगा। क्योंकि शिक्षा से ही किसी भी राज्य के लोग उन्नति कर सकते हैं और अगर लोग उन्नत होंगे तो राज्य अपने आप उन्नत हो जाएंगे । मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के नाम से ही पता चलता है कि ये अभियान सिविल सेवा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए है ।

इस योजना के अंर्तगत वो सभी छात्र जिन्होंने सिविल सेवा की आरंभिक परीक्षा सफलता पूर्वक पास कर ली है सरकार उन्हें 1 लाख रुपये की आर्थिक मदद देगी ताकि वो अगले स्तर की तैयारी कर सकें। धन के अभाव में ये छात्र कहीं पिछड़ ना जाये क्योंकि बहुत से छात्र आर्थिक तंगी के कारण पढ़ना छोड़ देते है । इसलिए इस राशि से वो अपनी शिक्षा पूरी कर सकते हैं । अनुसूचित जाति और अनुसूचितजनजाति के लिए बिहार की ये योजना किसी वरदान से कम नहीं है।

Bihar BC EBC Scholarship Form 2022

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना को शुरू करने का उद्देश्य :

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी ने अपने राज्य के पिछड़े वर्ग के उत्थान के लिए की ताकि इस वर्ग के विद्यार्थी ग़रीबी रेखा से बाहर आ सकें और  उच्च शिक्षा के लिये प्रोत्साहित हो । अगर इस वर्ग के बच्चे अच्छी शिक्षा ग्रहण करगें तो उन्हें भी  कैरिएर  के अच्छे विकल्प मिलेंगे । बिहार में पूरे राज्य में अल्पसंख्यक कल्याण छात्रावास हॉस्टल की  कुल संख्या 33 है  जिनमें कुल 3,350 विद्यार्थी रहते हैं ।

ये सभी छात्र इस योजना का फ़ायदा उठा सकते हैं । बिहार सरकार 11 और होस्टल पिछड़े वर्ग के लिए बनवाना चाहती है ताकि इसमें 5000 तक पिछड़े वर्ग के छात्र रह सकें और योजना का फ़ायदा ले सकें। मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना की खूबियां मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना की मूलभूत विशेषता यह है कि जो छात्र बहुत ही गरीब है और पिछड़े वर्ग से है परन्तु वो मेधावी है मतलब की सरकारी परीक्षा को पास कर सकता है

Bihar Pichda Varg Scholarship Form 2022

उसकी सरकार आर्थिक मदद प्रदान करेगी ।पिछड़े वर्ग के जो लोग सरकारी व सिविल नौकरियों की परीक्षा के लिए तैयारी करना चाहते हैं पर आर्थिक तौर पे सक्षम नहीं है सरकार उन्हें प्रोत्साहन देगी । योजना में सम्मिलित होने के लिये  पात्रों ने यूनियन पब्लिक सेवा आयोग एवं बिहार पब्लिक सेवा आयोग दोनों की प्राइमरी लेवल की परीक्षा पास की हो।  बिहार की राज्य सरकार ने पात्रों को यूपीएससी की प्राइमरी लेवल की परीक्षा पास करने पर 1 लाख रूपये और बीपीएससी की प्राइमरी लेवल की परीक्षा पास करने पर 50,000 रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है ।

यह प्रोत्साहन राशि संबंधित पात्र के बैंक खाते में सिंगल क़िस्त में आयेगी। पात्र को दफ़्तर के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे । सभी पिछड़े वर्ग के छात्र – छात्राओं को पढ़ाई के लिए 1000 रूपये हर महीने राज्य सरकार द्वारा दिया जाएगा । एसटी / एससी कल्याण विभाग,ओबीसी / ईबीसी कल्याण विभाग और अल्पसंख्यक मामलों के कल्याण विभाग के हॉस्टल में रहने वाले सभी पात्रों को बीपीएल दरों पर 15 किलो सब्सिडाइज्ड गेंहू और चावल भी राज्य सरकार मुहैया करवाएगी ।

Bihar BC EBC Scholarship Apply Online

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए योग्यता :  अगर सरकार की किसी भी योजना का लाभ लेना है तो सरकार द्वारा निर्धारित पात्रता के मापदंड पूरे होने चाहिए अन्यथा योजना का लाभ लेने के लिये पात्रता रद्द हो जायेगी । इस योजना के लिए वही पात्र होगा जो बिहार का स्थाई निवासी हो तभी उसे आर्थिक मदद मिलेगी । केवल एसटी / एससी पात्र ही मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के उम्मीदवार होंगे ताकी उनका भविष्य सुधर सके । इस योजना के उम्मीदवारो के पास  खुद का बैंक खाता होना चाहिए ताकि सहायक राशि सीधे पात्र के खाते में आये ।

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए आवश्यक साक्ष्य : योजना का लाभार्थी बिहार का स्थाई निवासी हो और उसके पास इसका प्रमाण पत्र होना चाहिए। पात्र के पास स्थाई पते का प्रमाण पत्र  और पहचान पत्र जिसमें नाम,पता, उम्र और सेक्स आदि की जानकारी होनी चाहिए । पात्र के पास सबसे आवश्यक कागज आधार कार्ड की प्रतिलिपि होनी चाहिए । आधार कार्ड में एक कोड होता है जो पहचान के लिए बहुत जरूरी है ।

यूपीएससी और बीपीएससी की प्राइमरी परीक्षा में प्रयोग होने वाली रोल नम्बर स्लीप की प्रतिलिपि और परीक्षा पास कर लेने के बाद मार्कशीट की प्रतिलिपि भी होनी चाहिए । आय के प्रमाण पत्र की कॉपी क्योंकि ये योजना सिर्फ पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए है जो अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से सम्बद्ध रखते हो ।पात्र के पास अपना खुद का बैंक खाता होना चाहिए और इसकी जानकारी आवेदन फॉर्म में भरी हो ।

Bihar BC EBC Civil Seva Protsahan Yojana Registration

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना में पंजीकरण करने का तरीका

Bihar BC EBC Scholarship Portal
Bihar BC EBC Scholarship Portal
Mukhyamantri Atyant Pichda Varg Civil Sewa Protsahan Yojana
Mukhyamantri Atyant Pichda Varg Civil Sewa Protsahan Yojana

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना में योग्य छात्रों की सूची :

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए बजट में निर्धारित राशि :

इस योजना के अंतर्गत सिर्फ होनहार विद्यार्थी को ही छात्रवृत्ति दी गई और इसके लिए बिहार सरकार ने 32,54,70,000 से भी ज्यादा की राशि योग्य पात्रों को वितरित की । योग्य छात्रों को 10,000 रूपये की राशि दी गई । इस योजना में अत्यंत पिछड़े वर्ग के छात्रों को प्रोत्साहित करना है ताकि जो धन राशि उन्हें मिली उससे वो अपनी शिक्षा पूरी कर लें । Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Yojana Registration online.

Comments are closed.