Get Important updates to shape up your career

यूपी भूलेख ऑनलाइन 2022 खसरा खतौनी नकल at upbhulekh.gov.in

यूपी भूलेख ऑनलाइन 2022 खसरा खतौनी नकल at upbhulekh.gov.in UP Bhulekh online services check Bhu Naksha map Khasra Gatta number land record download. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने राज्य में भूलेख पोर्टल का  आरंभ किया है। भूलेख का   यहाँ अर्थ है भूमि से सम्बंधित सारा लेखा -जोखा ।यूपी सरकार ने 2 मई 2016  में ही भूमि रिकार्ड को जानने के लिए  कंप्यूटर पर इसकी व्यवस्था कर दी थी।लेकिन अब योगी जी ने यूपी भूलेख पोर्टल का शुभारंभ कर दिया है।  इससे पहले  भूमि से जुड़ा सारा विवरण कागज़ों में लिखित मिलता था । ये सारा विवरण  अब ऑनलाइन उपलब्ध कर दिया गया है।

यूपी भूलेख ऑनलाइन 2022

यूपी भूलेख पोर्टल क्या है? यूपी भूलेख का मतलब है उत्तर प्रदेश की भूमि का लिखित विवरण । इस विवरण के लिए यूपी सरकार ने  एक वेबसाइट शुरू की है जिसका नाम है  up bhulekh. gov. in   इसके माध्यम से लोगों की पूरी जमीन का ब्यौरा ऑनलाइन उपलब्ध है। राज्य के नागरिकों को  अपनी जमीन का सारा विवरण अब  बड़ी आसानी से  घर बैठे जानने की सुविधा मिल गई है। कोई भी व्यक्ति अपनी जमीन से सम्बंधित जानकारी घर बैठे  ही जान सकता है ।

यूपी भूलेख खसरा खतौनी – खसरा खतौनी दोनों ही शब्द उर्दू भाषा के हैं।  भूमि के किसी चिन्हित टुकड़े का नम्बर या खेत का नम्बर  खसरा कहलाता है ।  भूलेख को भी कहीं खेत के कागज़ात ,खेत का खाता या ब्यौरा , नक्शा ,नकल इत्यादि कहते हैं ।  भूमि से जुड़ा सारा  कार्य राजस्व विभाग के  अधिकार क्षेत्र में आता है। यहाँ हर रोज़ सैंकड़ों गतिविधियां  भूमि से सम्बंधित होती हैं। इन सबको कम्प्यूटरीकृत करने के लिए  इस पोर्टल को शुरू किया गया  है ।  इस सुविधा से  सारा  कार्य सुव्यवस्थित और सुचारू हो  सकता है ।

UP Bhulekh Portal

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल की सुविधा से राज्य के नागरिक घर बैठे अपनी ज़मीन से जुड़ी सारी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। हमने अपने इस लेख में पढ़कों को उस सारी प्रक्रिया से अवगत करवाया है कि वे बड़ी आसानी से अपनी ज़मीन से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त कर सकें। इस प्रक्रिया के माध्यम से राजस्व विभाग के सारे कार्यों में पारदर्शिता रहती है। इसके शुरू होने से पहले  उत्तर प्रदेश भूलेख का सारा रिकॉर्ड  कागजों में ही था।

मई 2016 से इसे कंप्यूटर पर लाया  गया।जिसके बाद  व्यवस्था में काफ़ी सुधार हुआ और अब  योगीसरकार द्वारा शुरू की गई भूलेख पोर्टल के कारण लोगों  को घर बैठे  अपनी जमीन से सम्बंधित कोई भी  जानकारी हासिल हो जाती है। अब उन्हें हर छोटे – छोटे काम के लिए पटवारी के पास नहीं जाना पड़ता।इस तरह उनके समय और पैसे दोनों की बच्चत होती है। जमीन से जुड़ा सारा विवरण इस पोर्टल सुविधा से व्यक्ति जान सकता है  उसकी जमीन कहाँ ओर कितनी है

UP Bhulekh Portal
UP Bhulekh Portal

UP Land Record Online

यह जानकारी प्राप्त करने से वह अपनी जमीन पर  मलकियत भी  जता सकता है। ऐसे में उसके साथ कोई धोखाधड़ी नहीं हो सकती क्योंकि इसमें जमीन से जुड़ी सारी जानकारी सही होती है।

यूपी भूलेख ऑनलाइन का उद्देश्य – यूपी भूलेख ऑनलाइन का मुख्य उद्देश्य भूमि से जुड़े सारे कार्य को  सरल,सुचारू और सुव्यवस्थित बनाना है। राज्य के नागरिकों को जमीन से सम्बंधित सारी जानकारी घर बैठे उपलब्ध करवाना है। लोंगों को हर जानकारी प्राप्त करने के लिए अब पटवारी या  तहसीलदार के पास नहीं जाना पड़ेगा।

यूपी भूलेख के मुख्य बिंदु

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल के लाभ

इस  पोर्टल की सुविधा से लोग अपने घर पर ही  अपनी जमीन का नक्शा   देख सकते हैं।इसके लिए उन्हें खसरा नम्बर और जमाबन्दी नम्बर पता होना चाहिए जिसे निर्दिष्ट स्थान पर डालकर वे आसानी से जमीन का नक्शा प्राप्त कर सकते हैं। अपनी जमीन का पूरा विवरण राज्य के लोग घर बैठे आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

UP Bhu Naksha Online Services

भूलेख पोर्टल की ऑनलाइन सुविधा से  राज्य के लोगों के समय और पैसे दोनों की बचत होगी, क्योंकि  इस सुविधा के शुरू करने से पहले लोगों को  भूमि से जुड़ी हर छोटी बड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए पटवारी के पास चक्कर लगाने पड़ते थे। ये और भी कठिन हो जाता है जब इच्छुक व्यक्ति अस्वस्थ हो।अतः यह बहुत बड़ी सुविधा सरकार ने राज्य के नागरिकों को दी है । UP Bhu Naksha Kaise Dekhe

इस पोर्टल सुविधा से ज़मीनी कार्यप्रणाली में पारदर्शिता आएगी और जमीन से सम्बंधित कोई धोखाधड़ी नहीं होगी।

यूपी भूलेख के विभिन्न वर्ग

खसरा नम्बर-   खेत, प्लॉट या भूमि का कोई चिन्हित टुकड़ा जिसका  सर्वे में नम्बर मिल गया हो उसी को खसरा नम्बर कहा जाता है । यह संख्या या नम्बर सरकार द्वारा  खेती  वाली भूमि के लिए दिया जाता है।

खाता या खेवट नम्बर  

जिन भूमि मालिकों के पास अलग अलग खसरा संख्या का भूमि का टुकड़ा हो,उन  लोगों को   उस भूमि का खाता या खेवट नम्बर दिया जाता है।

जमाबंदी या फर्द–जमाबन्दी या फर्द में जमीन के मालिक का नाम,  जमीन बीजने वाले का नाम क्षेत्र, भूमि खसरा नम्बर  फसल  का ब्यौरा और पट्टा विवरण इत्यादि मुख्य भूमि रिकॉर्ड  होते हैं।

खतौनी नम्बर-   खतौनी नम्बर वह संख्या है जो खेती करने वाले लोगों को उनकी भूमि  के हिस्से को दी जाती हैजोअलग अलग  खसरा  नम्बर की भूमि पर खेती करते हैं ।

Uttar Pradesh Bhulekh online

यूपी भूलेख जमाबन्दी नकल खसरा खतौनी देखने की प्रक्रिया

जो लोग इस पोर्टल के माध्यम से अपनी जमीन से सम्बंधित  किसी भी बात की जानकारी हासिल करना चाहते हैं वे नीचे दी गई प्रक्रिया के द्वारा  प्राप्त कर सकते हैं-

उत्तर प्रदेश भुलेख कैसे देखें?

उत्तर प्रदेश भू नक्शा ऑनलाइन देखने का तरीका

UP Land Record District wise
UP Land Record District wise

उत्तर प्रदेश भू-लेख पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें?

बोर्ड ऑफ रेवेन्यू एडमिनिस्ट्रेटर लॉगिन

बोर्ड ऑफ रेवेन्यू रिपोर्ट लॉगिन

तहसील म्यूटेशन लॉगिन

डिस्ट्रिक्ट  एडमनिस्ट्रेटिव लॉगिन

तहसील एडमनिस्ट्रेटिव लॉगिन

तहसील रिपोर्ट लॉगिन

UP Bhu Naksha Download online

भू नक्शा डाउनलोड  कैसे करें?

UP Bhulekh Khasra Number
UP Bhulekh Khasra Number

Comments are closed.